Saturday, May 25, 2024

जब जब पुरवइया संदेसवा पठावे – भोजपुरी गीत

जब जब पुरवइया संदेसवा पठावे
बदरवा ई दउर दउर आवे
काजर कर साँवर बदरवा ई दउर दउर आवे

बिलमावे केहू ना,मारे जादो मंतर
परदेसी घर आवे,उमड़त हर गाँव डगर
अइसन प्रेमी केहू दीठ ना लगावे

तिरिछे लखि बिजुरी,घन घुंघुटा अइसे ताने
साजन से जइसे रूसल गोरी ना माने
बिंदिया चमके बुँदिया झाँझर झमकावे

दादुर ढोलक ढमके, झनके झिंगुर सितार
बादर के मादर प गावे मौसम मल्हार
सोहर-झूमर -कजरी खेत-खेत गावे
बदरवा ई दउर दउर आवे

टटका टटका

इहों पढ़ल जाव