Sunday, April 21, 2024

बिना गारंटी 3 लाख का लोन- ऐसे करें पीएम विश्वकर्मा योजना मे अप्लाई

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के तहत पारंपरिक कारीगरों पहले चरण में ₹100000 तक का ब्याज मुक्त लोन मिलेगा यही नहीं इनको सरकार प्रशिक्षण भी देगी.

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने 73 वें जन्मदिन पर देशवासियों को एक बड़ा तोहफा दिया और उन्होंने पीएम विश्वकर्मा योजना लॉन्च किया है. पारंपरिक कौशल वाले लोगों को अपना व्यापार व स्वरोजगार खोलने मे मदद मिलेगी.

ऐसे मे बड़ा सवाल यही है कि इस योजना का लाभ जिन लोगों को मिलेगा,वह कैसे मिलेगा और उसके लिए कहां अप्लाई करना होगा, और कितना लाभ मिलेगा?

प्रधानमंत्री के घोषणा के बाद 16 अगस्त को केंद्रीय कैबिनेट ने इस योजना को मंजूरी दे दी.इस योजना के लिए 13000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है यह योजना अगले 5 साल तक यानी साल 2028 तक लागू रहेगी.

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के तहत करगीरों और हस्तशिल्प श्रमिकों को विश्वकर्मा प्रमाण पत्र और पहचान पत्र मिलेगा.

अपना व्यवसाय खोलने के लिए इन लोगों को पहले चरण में ₹100000 (एक लाख) तक का ब्याज मुक्त लोन मिलेगा इसके बाद दूसरे चरण में 5% की रियायती ब्याज दर के साथ ₹200000 (दो लाख) मिलेंगे.

किन लोगों को मिलेगा योजना का लाभ

  • बढ़ई
  • सोनार
  • कुम्हार
  • मूर्तिकार या पत्थर काटने वाले
  • चर्मकार
  • राजमिस्त्री
  • बुनकर
  • चटाई अथवा झाड़ू बनाने वाले
  • रस्सी काटने वाले अथवा बेलदार
  • पारंपरिक खिलौना निर्माता
  • नाई
  • हार बनाने वाले
  • धोबी
  • दर्जी
  • मछली पकड़ने का जाल बनाने वाले
  • नाव बनाने वाले
  • कवच बनाने वाले
  • लोहार
  • ताला बनाने वाले
  • कुल्हाड़ी अथवा अन्य उपकरण वाले

प्रशिक्षण और आर्थिक सहायता भी मिलेगी

केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की जानकारी देते हुए मीडिया को बताया कि इस योजना के तहत इन सभी कारीगरों को प्रशिक्षित भी किया जाएगा और यह प्रशिक्षण दो रूप में दिए जाएंगे बुनियादी प्रशिक्षण और उन्नत प्रशिक्षण.

प्रशिक्षण के दौरान प्रतिदिन ₹500 की आर्थिक सहायता भी दी जाएगी साथ ही औद्योगिक उपकरण खरीदने के लिए ₹15000 की वित्तीय सहायता अलग से प्रदान की जाएगी

इस योजना के तहत पहले 500000 (पाँच लाख ) परिवारों को पहले वर्ष में लाभ मिलेगा और अगले 5 वर्षों में कुल 30 लाख परिवारों को इस योजना से लाभ मिलने का अनुमान जताया जा रहा है.

योजना कब से लागू होगी और आवेदन कहां करें

इस योजना के लिए एक विशेष वेबसाइट को बनाया गया है इस योजना के लिए आवेदन https://pmvishwakarma.gov.in/ वेबसाइट पर किया जा सकता है.

इस वेबसाइट पर पंजीकरण करने की चार प्रक्रिया है पहले चरण में मोबाइल नंबर और आधार संख्या को वेरीफाई करना होगा.

दूसरे चरण में आपको दिए गए फॉर्म को भरना होगा इसे आप अपने मोबाइल अथवा कंप्यूटर की मदद से भी भर सकते हैं अगर आपके पास यह सुविधा उपलब्ध नहीं है तो अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर पर यह फार्म भरवा सकते हैं.

तीसरे चरण में आवेदक प्रधानमंत्री विश्वकर्मा सर्टिफिकेट और पहचान पत्र डाउनलोड कर सकता है

चौथे और अंतिम चरण में अपनी कुशलता के मुताबिक आवेदक आवेदन कर सकते हैं आवेदन दाखिल होने के बाद 3 चरणों में वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी होगी उसके बाद आवेदकों को लाभ दिया जाएगा.

टटका टटका

इहों पढ़ल जाव